हैल्लो दोस्तों,
अपने लक्ष्य को कैसे हासिल करें?आज मै आपको बताने जा रहा हूँ कि आप अपने लक्ष्य को कैसे हासिल करें?  मनुष्य कोई भी कार्य करता है तो उसका एक लक्ष्य होता है, एक मंजिल होती है जिसके लिए वो जी जान लगा देता है खूब कड़ी मेहनत करता तब जाकर वह अपने लक्ष्य को प्राप्त करता है। जैसे हमें दिल्ली जाना है तो वो हमारा लक्ष्य हो गया। अब अगर हम दिल्ली पहुंचने के लिए जो भी करते हैं वो हो गया लक्ष्य तक पहुंचने का रास्ता आज मै इस article अपने लक्ष्य को कैसे हासिल करें? में आपको यही बताने जा रहा हूँ कि अगर आपका कोई निर्धारित लक्ष्य है तो आप उस तक पहुंचोगे कैसे? अब उसके सामने सबसे बड़ा प्रश्न ये होता है कि वो अपने लक्ष्य को कैसे प्राप्त करें? इसके लिए मै आपको बताने जा रहा हूँ 10 तरीके जिससे आप अपने लक्ष्य को Achieve कर लेंगे। आप अपने लक्ष्य को कैसे हासिल करें?  इस आर्टिकल का लिखने का उद्द्येश्य यही है कि आपके प्रॉब्लम को Solve किया जा सके। 

अपने लक्ष्य को कैसे हासिल करें?

अपने लक्ष्य को कैसे हासिल करें? 

अब मै आपको ऐसे 10 तरीके बताने जा रहा हूँ जिससे आपको अपने लक्ष्य तक पहुंचने में मदद मिलेगी।

1. अपने लक्ष्य को छोटे छोटे टुकड़ो में विभाजित करें।

हमे शरुआती चरण में अपने लक्ष्य को छोटे छोटे टुकड़ों में विभाजित करना होगा अर्थात कुछ भागों में बांटना होगा जिससे कि वह एक सीढ़ी के रूप में निर्मित हो जाए तब आप क्रमशः एक एक करके सीढ़ी चढ़ सकते है और अपने लक्ष्य को हासिल कर सकते है। लक्ष्य को विभाजित करने से तात्पर्य ये होगा कि आपका बड़ा लक्ष्य अब छोटे-छोटे भागों में बट जाएगा।

2.अपने लक्ष्य पे ध्यान केंद्रित करें।

अब हमे केवल अपने छोटे लक्ष्य पर ध्यान देना है और उसे हासिल करने में लग जाना है। जब भी आप अपने पहले चरण को पार करेंगे तब आपको छोटी सी जीत की खुशी होगी और आपका आत्मविश्वास और बढ़ जाएगा और आप अपने अगले लक्ष्य को हासिल करने के लिए और मजबूती के साथ तैयार हो जाएंगे। और आप अगले लक्ष्य के प्रति उत्तेजित हो जाएंगे और अगली जीत आपकी उसी उत्तेजना में होगी तो आपका आत्मविश्वास दिन प्रति दिन बढ़ता चला जाएगा और आप जीत हासिल करते चले जाएंगे।

3.एक एक करके लक्ष्यों को पूरा करें।

जब आप धीरे धीरे करके अपने सारे लक्ष्यों को पूरा करते जाएंगे तब आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा का विकास होगा और आप अपने अगले टास्क के लिए हमेशा तैयार रहेंगे। अभ्यास करते करते आप लोग अभ्यस्त हो जाएंगे और आप अगले टास्क को काम समय में हासिल करेंगे।

4.अपने आप पे विश्वास रखें।

सबसे Important बात आपको अपने ऊपर विश्वास रखना होगा अगर आपको नहीं पता तो आप हमारा ये article पढ़ सकते हैं, Self Confidence कैसे बढ़ाएँ? जब आप धीरे धीरे करके अपने सारे छोटे छोटे लक्ष्यों को पूरा कर लेंगे उस समय जब आप पीछे मुड़ कर देखेंगे तो तो आप को सिर्फ आपके कदमों के निशान दिखेंगे कि किन कठिनाइयों से आपने अपनी मंज़िल को पा लिया है वह वाक़त सिर्फ आपका खुशी मनाने का होगा और आपको अपने ऊपर गर्व होगा कि आपने वह कर दिखाया।

5.लक्ष्य को ध्यान में रख के ही कार्य करें।

परन्तु, सबसे महत्त्वपूर्ण हमें इस बात को ध्यान में रखना होगा कि हमें अपने हिसाब से अपना लक्ष्य रखना होगा अर्थात आप जिस छेत्र में है उसी छेत्र में अपना लक्ष्य रखना होगा या फिर जो आपका लक्ष्य होगा उसी के अनुसार आपको कार्य करना होगा। लक्ष्य निर्धारित करने से पहले ये जरूर सोच लें कि अपने लक्ष्य को कैसे हासिल करें? 

कभी कभी हम कर कुछ और रहे होते है और लक्ष्य हमारा कुछ और हो रहा होता है तो हमे इस बात का बहुत ध्यान रखना होगा जिससे कि हमारा नुकसान ना हो। अर्थात अगर हम अपने वाहन को चालू कर रहे है तो हमारा लक्ष्य निर्धारित है कि हमें कहा पहुंचना है और उसी तरफ चलने से हम निर्धारित स्थान पर पहुंच पाएंगे इसीलिए हमे अपना लक्ष्य पूर्ववत ही निर्धारित करना होगा।

6. लक्ष्य हमेशा निश्चित होना चाहिए।

अर्थात जो किसी पैमाने पर मापा जा सके मतलब यह की अगर कोई कहता है कि मुझे इंटर टॉप करना है तो सवाल ये उठता है कि कितने अंको से टॉप करना है? जब लक्ष्य किसी पैमाने के साथ जोड़ दिया जाता है तब हम अपनी विकास शीलता को माप सकते है और ये जान सकते है कि आपने अपना लक्ष्य सही तरीके से हासिल किया या नहीं इसीलिए लक्ष्य हमेशा मापीय होता है।

7.अपने लक्ष्य के प्रति सकरात्मक नजरिया रखें।

यदि आप कोई ऐसा लक्ष्य बनाते है जो कि आपको स्वयं महसूस कराए कि ये तो मेरे लिए असंभव है तो ऐसे लक्ष्य का कोई अर्थ नहीं हमारा sub-conscious mind conscious mind से कहीं अधिक तेज होता है यदि आप conscious mind से कोई असंभव लक्ष्य बनाएंगे और sub-conscious mind से समर्थन नहीं मिलेगा तो तो उस लक्ष्य के पूरे होने की सम्भावना कम होगी। उदाहरण आप गणित में 100% अंक ले आने का निश्चय करते है परन्तु आपका पुराना रिकॉर्ड बताता है कि आप बहुत मुश्किल से इस विषय में पास होते है तो तुरंत ही आपका अवचेतन मस्तिष्क इसे नकार देगा वहीं अगर आप 75% अंक ले आने का निश्चय करते है तब आपके सफल होने की सम्भावना कहीं अधिक होगी।

8.लक्ष्य हमेशा realistic बनाएँ।

आप सोच रहें होंगे कि ये realistic क्या होता है? यहां realistic का मतलब है जिसे हासिल किया जा सके जो असंभव न हो उस टाइम पीरियड के अंदर जो आपने सेट किया है।

आपका लक्ष्य आपकी ही तरह realistic होना चाहिए। जो लक्ष्य realistic हो हासिल हो सकता है पर जो हासिल हो , realistic हो यह जरूरी नहीं। परीक्षा में टॉप करना एक हासिल करने योग्य लक्ष्य है परन्तु चांद को जमीन पर ले आना असंभव है। आपके परीक्षा में मात्र कुछ दिन शेष है और आपने साल भर पढ़ाई नहीं की तो इस स्थान पर सफल होने की सम्भावना बहुत कम होगी।

9.अपने लक्ष्य का समय सीमा निर्धारित करें।

लक्ष्य के साथ अगर आप समय सीमा निर्धारित किए रहेंगे तो आप को लक्ष्य हासिल करने की जल्दी नहीं रहेगी और उसे पूरा करने के लिए आप पूरा प्रयत्न कर पाएंगे । मैंने कई बार सुना है कि अगर मेरे पास समय होता तो मै वो प्रश्न भी हल कर जाता पर यह बहुत काम ही सुनने में आता है कि मैंने समय से पहले ही सारे प्रश्न हल कर लिए जब भी आप कोई लक्ष्य बनाएं तो यह भी निर्धारित करें कि कितने समय में पूरा करना है और इसे भी अपने सोच का हिस्सा बनाएं।

10.कठिनाइयों का सामना करें।

यदि हमे अपना लक्ष्य हासिल करना है तो सर्वप्रथम हमे मजबूत बनना होगा। हमारी राह में ढेरों कठिनाइयां आयेंगी जो हमारा ध्यान भंग करेंगी हम कई परेशानियों से आमना सामना करेंगे आर्थिक रूप से भी और शा शारीरिक रूप से भी परन्तु इसके लिए हमें तैयार रहना होगा हमें अपने लक्ष्य को लेकर इतना दृढ़ रहना होगा जैसे कोई पत्थर, कुछ भी हो जाए जो ठान लिए वहीं करना है।

दोस्तों, अपने लक्ष्य को कैसे हासिल करें? इस article को लिखने का मतलब ये है कि अगर आपने अपना कुछ करने का निर्णय लिया है तो अपने उस लक्ष्य तक आप पहुंचोगे कैसे तो ये article आपको अपने मंजिल तक पहुंचने में मदद करेगा। क्योंकि हमारा एक उद्देश्य है कि “बड़ा नौकर होने से अच्छा है छोटा मालिक बनें”।

दोस्तों इस article को पढ़ के यदि आपके जीवन में किसी प्रकार का बदलाव आया हो या आपको किसी तरह का सुझाव देना है तो Please Comment करके जरूर बताएँ।